टिकट कैंसिल कराना पड़ा भारी

Posted By: Ramesh Sharma Posted On: Aug 14, 2023
Online Fraud: IRCTC website से टिकट करा रहा था कैंसिल. (File photo)

टिकट कैंसिल कराना पड़ा भारी, बैंक अकाउंट से कट गए 4 लाख रुपये, कभी ना करें ये गलती

Online Fraud: 78 साल के एक व्यक्ति को ट्रेन का टिकट कैंसिल कराना भारी पड़ा. लंबी-लंबी कतारों से बचने के लिए बुजुर्ग ने ट्रेन टिकट को ऑनलाइन कैंसिल करना सही समझा, लेकिन इस दौरान वह एक स्कैम का शिकार हो गए. इसके बाद उनके बैंक अकाउंट से 4 लाख रुपये गायब हो गए. आइए डिटेल्स में जानते हैं क्या है पूरा मामला और आप कैसे सावधान रह सकते हैं.

Online Fraud: 78 साल के एक व्यक्ति को ट्रेन का टिकट कैंसिल कराना भारी पड़ा. दरअसल, लंबी-लंबी लाइनों से बचने के लिए बुजुर्ग ने ट्रेन टिकट को ऑनलाइन कैंसिल करना सही समझा, लेकिन इस दौरान वह एक स्कैम का शिकार हो गए और उनके बैंक अकाउंट से 4 लाख रुपये गायब हो गए. बुजुर्ग ने IRCTC वेबसाइट को सर्च किया, लेकिन वह एक फर्जी वेबसाइट पर जा पहुंचे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बुजुर्ग ने अपने ट्रेन टिकट को कैंसिल कराने के लिए इंटरनेट पर मौजूद वेबसाइट का सहारा लिया. इसके बाद खुद को रेलवे का कर्मचारी बताने वाले व्यक्ति ने विक्टम बुजुर्ग को कॉल किया और उसने पूछा कि वह हिंदी और इंग्लिश बोल सकते हैं. फिर टिकट कैंसिल कराने के लिए वे बुजुर्ग को इंस्ट्रक्शन देने लगे.

ये भी पढ़ेंः Online Scam पकड़ने में मदद करेगा ये AI टूल, बहुत आसान है यूज करने का तरीका, फ्री है सर्विस

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्कैमर्स ने बताया कि वह बुजुर्ग की मदद कर रहा. इसके बाद विक्टम ने स्कैमर्स द्वारा दिए गए इंस्ट्रक्शन को फॉलो करना शुरू किया. फिर स्क्रीन पर ब्लू कलर का लोगो नजर आया और फिर डिवाइस का कंट्रोल फ्रॉड के हाथों पर पहुंच गया.

इसके अलावा बुजुर्ग ने स्कैमर्स को खुद की बैंक डिटेल्स और ATM Card नंबर आदि शेयर कर किए. इसके बाद स्कैमर्स ने यूजर्स के फोन में वायरस को इंस्टॉल किया, उसके बाद मोबाइल को रिमोट एक्सेस पर ले लिया. फिर यूजर्स के मोबाइल से डेटा एक्सेस, बैंक डिटेल्स एक्सेस और OTP आदि का एक्सेस ले लिया.

ये भी पढ़ेंः अनजान नंबर से आया कॉल, बैंक अकाउंट से कट गए 53 लाख, ऐसे फ्रॉड से सेफ रहने के तरीके

विक्टम के बैंक अकाउंट की तरफ से एक मैसेज आया, जिसमें 4,05,919 रुपये कटने की जानकारी थी. इसके बाद विक्टम को पता चला कि वह स्कैम का शिकार हो चुके हैं. इसके बाद उन्होंने पुलिस को कंप्लेंट की और पता चला कि स्कैमर्स ने शायद बिहार या पश्चिम बंगाल से कॉल किया. साइबर सेल की पुलिस ने बताया कि Rest Desk नाम के ऐप से स्कैमर्स ने बुजुर्ग के मोबाइल का एक्सेस लिया.

स्कैमर्स आमतौर पर विक्टिम के डिवाइस में अलग-अलग malware इंस्टॉल करते हैं, उसके बाद डिवाइस का कंट्रोल लेते हैं. इनमें से एक Remote Access Trojans (RAT) है, जो स्कैमर्स को यूजर्स के सिस्टम का कंट्रोल देता है. ऐसे में संभावना जताई है कि विक्टम के मोबाइल में भी स्कैमर्स ने Remote Access Trojans (RATs) से मोबाइल का एक्सेस लिया होगा. इसके अलावा एक keyloggers नाम का भी टूल है, जो यूजर्स द्वारा दबाई गए बटन की जानकारी शेयर करता है. ऐसे में स्कैमर्स बैंक डिटेल्स, लॉगइन और पासवर्ड आदि हैक कर लेते हैं..

Source: AajTak
Related Posts: साइबर क्राइम

Comment on Post

Leave a comment

If you have a News HTS user account, your address will be used to display your profile picture.



एक अनजान कॉल और खाते से उड़ गए 6 लाख

Posted By: Ramesh Sharma Posted On: Aug 21, 2023
नई नौकरी के चक्कर में लगा 6 लाख का चूना. (फोटोः प्रतिकात्मक, unsplash)

एक कॉल, दो लोगों से बात और बैंक अकाउंट से गायब हो गए इतने लाख, ऐसे रहें सेफ

Online Fraud का एक नया मामला मुंबई से सामने आया है, जहां एक व्यक्ति के साथ 6 लाख रुपये की ठगी हो गई. इसमें पहले उसे एक नौकरी का ऑफर आया और आखिर में वह ठगी का शिकार हो गया. विक्टिम ने शुरुआत में उन्हें 100 रुपये ट्रांसफर किए. जॉब प्रोसेस के बहाने यूजर्स की बैंक डिटेल्स ले ली. आइए जानते हैं पूरा मामला.

भारत में ऑनलाइन फ्रॉड के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. आए दिन नए-नए ऑनलाइन ठगी के मामले सामने आ रहे हैं. एक नया मामला मुंबई से सामने आया है, जहां एक व्यक्ति के साथ 6 लाख रुपये की ठगी हो गई. इसमें पहले उसे एक नौकरी का ऑफर आया और आखिर में वह ठगी का शिकार हो गया. जानते हैं पूरा मामला.

38 साल के विक्टिम एक प्राइवेट सेक्टर के बैंक में काम करते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक दिन उन्हें एक अनजान नंबर से दो लोगों का कॉल आया, जिन्होंने दूसरे फाइनेंशियल इंस्टीट्यूट में नौकरी का ऑफर किया. इसके लिए उन्होंने एक प्रोसेस फॉलो करने को कहा.

ये भी पढ़ेंः Online Scam पकड़ने में मदद करेगा ये AI टूल, बहुत आसान है यूज करने का तरीका, फ्री है सर्विस

विक्टिम को ज्यादा सैलेरी के लिए नई नौकरी की तलाश थी, ऐसे में उसने नई नौकरी के ऑफर को हां कर दिया. इसके बाद प्रोसेस में आगे बढ़ने से पहले विक्टिम से 100 रुपये की पेमेंट करने को कहा गया, जिसके बाद उसने अपने बैंक अकाउंट से स्कैमर्स को ट्रांसफर भी कर दिए.

इसके बाद साइबर ठगी करने वालों ने नौकरी का प्रोसेस बताकार उससे बैंक डिटेल्स ले ली और फिर बैंक अकाउंट को खाली कर दिया. विक्टिम ने देखा कि उसके अकाउंट से दो अनऑथराज्ड ट्रांजैक्शन हुई, जिसमें उसके 5.46 लाख रुपये अकाउंट से गायब हो गए. इसके बाद उसे पता चला कि वह ऑनलाइन ठगी का शिकार हुआ है और फिर उस मामले की जानकारी पुलिस को दी. पुलिस ने FIR दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

ये भी पढ़ेंः टिकट कैंसिल कराना पड़ा भारी, बैंक अकाउंट से कट गए 4 लाख रुपये, कभी ना करें ये गलती

यह पहला मौका नहीं है, जब किसी को फर्जी नौकरी का लालच देकर उसके बैंक से रुपये निकाल लिए गए हों. इससे पहले भी कई फर्जी नौकरी के मामले सामने आ चुके हैं. पुलिस अभी इस मामले की जांच कर रही है, लेकिन हम सलाह देते हैं कि इस तरह के स्कैम से सावधान रहें.

ये भी पढ़ेंः मम्मी-पापा या गर्लफ्रेंड बनकर कर रहे ठगी, लाखों रुपये गंवा रहे हैं लोग, ऐसे बचें

ऑनलाइन ठगी करने वाले नौकरी देने का लालच देकर उसे एक प्रोसेस में आगे बढ़ने के लिए कहते हैं. इस प्रोसेस के दौरान ऑनलाइन स्कैमर्स बैंक डिटेल्स पर कब्जा कर लेते हैं. आइए जानते हैं इस तरह से स्कैम से बचने के तरीके.

Source: AajTak
Related Posts: साइबर क्राइम

Comment on Post

Leave a comment

If you have a News HTS user account, your address will be used to display your profile picture.



ऑनलाइन सर्च और महिला ने गंवा दिए 5 लाख रुपये

Posted By: Vanshika Pathak Posted On: Aug 20, 2023
ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार हुई महिला. (Photo: प्रतिकात्मक, File Photo)

Online Fraud: ऑनलाइन सर्च और महिला ने गंवा दिए 5 लाख रुपये, भूलकर भी ना करें ये गलती

Online fraud का एक नया मामला सामने आया, जहां महिला ने 5 लाख रुपये गंवा दिए. इसमें महिला ने पार्ट टाइम जॉब के लिए ऑनलाइन सर्चिंग की और ज्यादा कमाई के चक्कर में स्कैम का शिकार हो गई. इस ऑनलाइन फ्रॉड में महिला को Work From Home पर रहते हुए पार्ट टाइम जॉब का लालच दिया था. शुरुआत में उसे करीब 2400 रुपये का रिटर्न भी मिला. आइए इसके बारे में डिटेल्स जानते हैं और इससे बचाव के तरीके भी देखते हैं.

Online Fraud के मामले तेजी बढ़ रहे हैं. आए दिन नए-नए ऑनलाइन ठगी के मामले पढ़ने को मिल रहे हैं. अब एक नया मामला सामने आया है. इसमें एक महिला की छोटी से गलती काफी महंगी पड़ गई और उसके बैंक खाते से 5 लाख रुपये गायब हो गए. आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला?

महाराष्ट्र की रहने वाली 48 वर्षीय महिला घर में कुछ बच्चों को ट्यूशन पढ़ाती हैं. एक दिन अचानक उन्होंने ऑनलाइन दुनिया का सहारा लेकर एक्स्ट्रा इनकम के लिए सर्च करना शुरू किया. इसके लिए उन्होंने कई वेबसाइट्स पर विजिट किया. इसके बाद उन्हें अच्छी नौकरी का ऑफर मिला, जिसमें उन्हें अच्छी सैलरी का भी ऑफर दिया.

ये भी पढ़ेंः Online Scam पकड़ने में मदद करेगा ये AI टूल, बहुत आसान है यूज करने का तरीका, फ्री है सर्विस

ऑनलाइन सर्चिंग के बाद उन्हें जिस जॉब का ऑफर मिला, उसमें उन्हें घर बैठे यानी वर्क फ्रॉम होम करने को कहा. यह एक Part Time Job थी, जिसकी वजह से वह घर रहते हुए होम ट्यूशन के काम को भी जारी रख सकती थीं. यह पूरा काम ऑनलाइन था और महिला को बड़ा ही आसान लगा.

स्कैमर्स ने महिला को बताया कि इस पार्ट टाइम जॉब में उन्हें कुछ ऑनलाइन लिंक प्रोवाइड किए जाएंगे. इसमें अलग-अलग सोशल मीडिया लिंक होंगे. हर एक लिंक पर क्लिक करके कमाई की जा सकती है. इसके लिए उन्हें एक Telegram ग्रुप से कनेक्ट होने के लिए कहा.

ये भी पढ़ेंः ऑनलाइन फ्रॉड में लगा 9.66 लाख का झटका, कहीं आप तो नहीं करते ये 9 गलतियां

महिला का भरोसा जीतने के लिए साइबर ठगी करने वालों ने पहले 1,000 रुपये और फिर 1,400 रुपये का रिटर्न दिया. एक बार भरोसा जीतने के बाद महिला को ज्यादा कमाई का लालच दिया. इसके बाद विक्टिम 5 लाख रुपये इनवेस्ट करने को सहमत हो गई. लेकिन इनवेस्टमेंट करने के बाद उन्हें कुछ भी रिटर्न नहीं मिला और फिर उन्हें समझ आया कि वह ऑनलाइन ठगी का शिकार हो गईं.

विक्टिम को ठगी का पता चलते ही उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी और फिर साइबर फ्रॉड को लेकर मामला दर्ज कराया. पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी. बताते चलें कि वीडियो, सोशल मीडिया पोस्ट और सेलिब्रिटी के पोस्ट आदि को लाइक करने के बदले कमाई का ऑफर दिया जाता है. इस स्कैम के कई लोग शिकार हो चुके हैं.

ये भी पढ़ेंः E की जगह A करके उड़ा लिए 22 लाख रुपये, भूलकर भी न करें ये गलती

ऑनलाइन फ्रॉड से बचाव के लिए जरूरी है कि आप किसी भी लालच के चक्कर में ना आएं. दरअसल, ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले अक्सर लोगों को एक्स्ट्रा कमाई का लालच देते हैं. कई लोग तो पार्ट टाइम जॉब के लालच में आ जाते हैं. फ्रॉड से बचने के लिए इन बातों का ध्यान रखें.

Source: AajTak
Related Posts: साइबर क्राइम

Comment on Post

Leave a comment

If you have a News HTS user account, your address will be used to display your profile picture.



बल्क SIM Card पर सख्ती

Posted By: Vishal Maurya Posted On: Aug 18, 2023
Cyber Fraud पर सख्त हुई सरकार

नहीं खरीद पाएंगे बल्क में SIM Card, पुलिस वेरिफिकेशन भी जरूरी... Cyber Fraud रोकने के लिए सख्त नियम

साइबर फ्रॉड के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया है. केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने गुरुवार को SIM कार्ड डीलर्स को लेकर कई बड़े ऐलान किए हैं. इसमें सिम कार्ड डीलर्स को अब पुलिस वेरिफिकेशन कराना होगा. इसके अलावा 67 हजार सिम कार्ड डीलर्स को ब्लैक लिस्ट कर दिया गया है. अब आप बल्क में सिम कार्ड भी नहीं खरीद पाएंगे.

साइबर फ्रॉड्स के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. इस तरह के मामलों को रोकने के लिए सरकार ने कई बड़े कदम उठाए हैं. गुरुवार को केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस मामले पर जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि डिजिटल फ्रॉड्स को रोकने के लिए सरकार ने SIM Card बेचने वाले डीलर्स के वेरिफिकेशन को जरूरी कर दिया है.

इसके साथ ही बल्क कनेक्शन जारी करने के प्रावधान को भी खत्म कर दिया है. नए नियमों के बारे में बताते हुए अश्विनी वैष्णव ने कहा कि SIM कार्ड डीलर्स का अब पुलिस वेरिफिकेशन होगा. उन्होंने बताया कि डीलर्स का वेरिफिकेशन लाइसेंसी या टेलीकॉम ऑपरेटर द्वारा करवाया जाएगा.

इसके उल्लंघन पर 10 लाख रुपये का जुर्माना भी है. वहीं प्रिंटेड आधार कार्ड के मिसयूज को रोकने के लिए सरकार ने डेमोग्राफिक डिटेल्स को कैप्चर करना अनिवार्य कर दिया है. इसके लिए प्रिंटेड आधार कार्ड के क्यूआर कोड को स्कैन करना होगा.

अश्विनी वैष्णव ने बताया कि इस वक्त 10 लाख सिम कार्ड डीलर्स मौजूद हैं और उन्हें वेरिफिकेशन के लिए पर्याप्त समय दिया जाएगा. सिम कार्ड के बंद करने के नियमों में भी बदलाव किया गया है.

डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकम्युनिकेशन ने इस मामले पर बयान जारी किया है. वैसे सिम कार्ड के लिए आधार कार्ड का इस्तेमाल करना जरूरी नहीं होगा. पहले की तरह ही आप किसी दूसरे ID प्रूफ के जरिए भी सिम कार्ड खरीद सकेंगे. आधार e-KYC में थंब इम्प्रेशन और IRIS-बेस्ड ऑथेंटिकेशन के अलावा फेसियल बेस्ड बायोमैट्रिक्स ऑथेंटिकेशन को भी मंजूरी दी गई है.

>> किसी फोन नंबर या सिम कार्ड के बंद होने के 90 दिनों बाद तक उसे किसी दूसरे यूजर को जारी नहीं किया जा सकता है. एक यूजर को सिम रिप्लेसमेंट के लिए पूरे KYC प्रॉसेस को फॉलो करना होगा. इस पर 24 घंटे की रोक आउटगोइंग कॉल और इनकमिंग मैसेज पर होगी.

ये भी पढ़ें- SIM आपके फोन में, लेकिन कोई और कर सकता है आपका नंबर यूज, जानिए ऐसे

>> PoS (पॉइंट ऑफ सेल) के लिए वेरिफिकेशन प्रॉसेस टेलीकॉम ऑपरेटर द्वारा किया जाएगा. ये कदम फर्जी सिम कार्ड जारी करने वालों को रोकने के लिए उठाया जा रहा है.

>> अगर किसी PoS को गैर-कानूनी एक्टिविटी से जुड़ा पाया गया, तो उसे टर्मिनेट कर दिया जाएगा और तीन साल के लिए ब्लॉक किया जाएगा.

>> अगले 12 महीनों में मौजूदा PoS को लाइसेंसी के प्रॉसेस के तहत रजिस्टर किया जाएगा.

>> इसके अलावा साइबर फ्रॉड को रोकने के लिए 52 लाख मोबाइल कनेक्शन्स को डिस्कंटीन्यू किया गया है. मई 2023 से अब तक 67 हजार डीलर्स को ब्लैकलिस्ट और 300 FIR दर्ज की गई हैं.

>> वॉट्सऐप ने अपने प्लेटफॉर्म पर 66 हजार अकाउंट्स को ब्लॉक किया है, जो गैर-कानूनी गतिविधियों में लगे हुए थे. साथ ही 8 लाख बैंक वॉलेट अकाउंट्स को फ्रीज किया गया है.

>> 7.5 लाख मोबाइल चोरी की शिकायतों में 3 लाख फोन्स को ट्रेस करके उनके ओनर को वापस किया गया है. आधिकारिक डेटा के मुताबिक, 17 हजार हैंडसेट को ब्लॉक किया गया है.

ये भी पढ़ें- तेजी से फैल रहा वर्क फ्रॉम होम फ्रॉड, 100 लोगों की जुबानी, स्कैमर्स ने जाल में फंसा कर लूटे 2.5 करोड़

सरकार साइबर फ्रॉड को रोकने के लिए ये कदम उठा रही है. पिछले कुछ सालों में साइबर फ्रॉड के बहुत से मामले सामने आए हैं. इस तरह के मामलों में स्कैमर्स किसी फर्जी सिम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं. यही वजह है कि सरकार SIM कार्ड बेचने के प्रॉसेस को मुश्किल बना रही है. बल्क में सिम कार्ड खरीदने पर भी रोक लगा दी गई है.

ऐसे डीलर जो सिम कार्ड बेचते हुए अब उन्हें पुलिस वेरिफिकेशन कराना होगा. बल्क में सिम कार्ड खरीदने वालों में 80 परसेंट बेवजह के कनेक्शन होते हैं. इस तरह के कार्ड कॉर्पोरेट्स और समागम के नाम पर खरीदे जाते थे. बल्क में खरीदे गए सिम कार्ड में से 20 परसेंट का इस्तेमाल गलत कामों में होता था.

दरअसल, स्कैमर्स कई तरह से एक सिम कार्ड का गलत इस्तेमाल कर सकते हैं. मसलन किसी दूसरे के नाम पर लिए सिम कार्ड का इस्तेमाल लोगों को ठगने में किया जाता है. इसके अलावा आपके नाम पर पहले चल रहे सिम कार्ड को स्कैमर्स यूज कर सकते हैं. इसके लिए फ्रॉड्स SIM Swapping का इस्तेमाल करते हैं.

इस तरह के स्कैम में फ्रॉड्स पहले आपके बारे में जानकारी इकट्ठा करते हैं. इसके बाद वो आपके सिम कार्ड को खो जाने के बात कहते हुए टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइड के एक्जीक्यूटिव को अपनी बातों में फंसाते हैं और फिर आपके सिम कार्ड का एक्सेस हासिल कर लेते हैं.

Source: AajTak
Related Posts: साइबर क्राइम

Comment on Post

Leave a comment

If you have a News HTS user account, your address will be used to display your profile picture.



कभी भी हैक हो सकता है आपका फोन

Posted By: Vishal Maurya Posted On: Aug 15, 2023
मोबाइल से चोरी हो सकता है संवेदनशील डेटा. (Photo: प्रतिकात्मक, unsplash.com)

मोबाइल यूजर्स के लिए सरकार का अलर्ट, कभी भी हैक हो सकता है फोन, ऐसे रहें सेफ

मोबाइल यूजर्स के लिए सरकार ने एक अलर्ट जारी किया है. इसमें मोबाइल यूजर्स को सावधान रहने की सलाह दी. साथ ही बताया कि एंड्रॉयड के कुछ वर्जन में खामियों मिली. इन कमजोरियां का इस्तेमाल हैकर्स कर सकते हैं और आपके डिवाइस में सेंध लगा सकते हैं. इसमें वे मोबाइल में मौजूद संवेदनशील डेटा से लेकर बैंकिंग डेटा तक को चोरी कर सकते हैं. आइए इसके बारे में डिटेल्स से जानते हैं.

स्मार्टफोन आजकल सिर्फ कॉलिंग और मैसेज तक सीमित नहीं रह गया. अब मोबाइल पर बैकिंग से लेकर संवेदनशील जानकारी होती है, जिसके हैक होने पर बड़ा नुकसान हो सकता है. हैकर्स इन वल्नरबिलिटी का इस्तेमाल करके यूजर्स के फोन में खतरनाक ऐप्स इंस्टॉल करने से लेकर बैंक पासवर्ड या डिटेल्स तक चोरी कर सकते हैं.

दरअसल, सरकारी एजेंसी कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पोंस टीम (CERT-In) ने मोबाइल यूजर्स के लिए एक वॉर्निंग जारी की. इसमें एंड्रॉयड OS पर काम करने वालों को सावधान रहने को कहा है, क्योंकि इन कमजोरियों का इस्तेमाल करके हैकर्स मोबाइल यूजर्स को कंगाल तक कर सकते हैं.

जारी वॉर्निंग में बताया है कि एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम (Android OS) में कई कमजोरियां स्पॉट की हैं, जिनका फायदा हैकर्स उठा सकते हैं. यह एक तरह के सिक्योरिटी लूप होल हैं, जिनसे हैकर्स फोन तक पहुंच सकते हैं. इसमें हाल ही में लॉन्च हुआ Android 13 भी शामिल है.

ये भी पढ़ेंः Online Scam पकड़ने में मदद करेगा ये AI टूल, बहुत आसान है यूज करने का तरीका, फ्री है सर्विस

जानकारी के मुताबिक, ये कमजोरियां हैकर्स को डिवाइस का एक्सेस तक दे सकती है, जिससे यूजर्स का संवेदनशील डेटा तक चोरी हो सकता है. साथ ही फोन चलाने में परेशानियों का भी सामना करना पड़ सकता है.

CERT-In मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रोनिक्स एंड इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी के अंदर काम करने वाली एजेंसी है. इसका मकसद भारतीय साइबर स्पेस को सुरक्षित बनाना है. साथ ही साइबर सिक्योरिटी से संबंधित मामलों की पहचान करना. इसमें हैकिंग और फिशिंग जैसे मामले भी हैं.

ये भी पढ़ेंः ऑनलाइन फ्रॉड में लगा 9.66 लाख का झटका, कहीं आप तो नहीं करते ये 9 गलतियां

CERT-In के मुताबिक, Android वर्जन 10, 11, 12, 12L और 13 पर कई कमजोरियों को स्पॉट किया. ये कमजोरियां फ्रेमवर्क, एंड्रॉयड रन टाइम, सिस्टम कंपोनेंट, गूगल प्ले सिस्टम के कारण पैदा हुई हैं और उनका फायदा हैकर्स उठा सकते हैं.

इन वल्नरबिलिटी के चलते हैकर्स मोबाइल का एक्सेस ले सकते हैं, फिर आपका फोन हैकर्स के लिए काम करना शुरू कर देगा. इन वल्नरबिलिटी के कारण मोबाइल से पासवर्ड, डेटा, फोटो और जरूरी डॉक्यूमेंट तक लीक हो सकते हैं. इसमें यूजर्स बैंक डिटेल्स से लेकर OTP आदि का एक्सेस कर सकते हैं. इसके बाद बैंक अकाउंट तक में सेंध लगा सकते हैं.

CERT-In ने कुछ वल्नरबिलिटी को भी हाइलाइट किया है. इनके नाम कुछ इस प्रकार हैं, CVE-2020-29374, CVE-2022-34830, CVE-2022-40510, CVE-2023-20780, CVE-2023-20965 और CVE-2023-21132 हैं.

ये भी पढ़ेंः E की जगह A करके उड़ा लिए 22 लाख रुपये, भूलकर भी न करें ये गलती

एंड्रॉयड मोबाइल को सेफ रखने के लिए CERT-In की तरफ से कुछ सलाह दी हैं, जिन्हें फॉलो करके यूजर्स खुद को सेफ रख सकते हैं. बताते चलें कि इन खामियों को स्पॉट करके गूगल सिक्योरिटी पैच जारी कर चुका है. इसके लिए यूजर्स Android Security Bulletin-August 2023 की डिटेल्स चेक कर सकते हैं. इसके लिए जरूरी है कि यूजर्स फोन को अपडेट कर लें.

Android phone यूजर्स पहले मोबाइल की सेटिंग्स में जाएं. इसके बाद सिस्टम पर क्लिक करें और फिर सिस्टम अपडेट्स पर जाएं. अगर अपडेट आ गया है, तो उसे तुरंत इंस्टॉल कर लें. किसी भी ऐप्स को इंस्टॉल करने से पहले ध्यान दें कि वह ट्रस्टेड सोर्स से ही इंस्टॉल किया जाए.

Source: AajTak
Related Posts: साइबर क्राइम

Comment on Post

Leave a comment

If you have a News HTS user account, your address will be used to display your profile picture.

POPULAR News

icon
दुनिया भारत को एस-400 एयर डिफेंस सिस्टम की रूस जल्द करेगा डिलीवरी, यूक्रेन युद्ध के कारण देरी होने की थी आशंका
icon
बिज़नेस भारतीय रेलवे ₹21,500 में 11 दिन का टूर पैकेज, पुरी से लेकर अयोध्‍या-काशी तक की करें सैर
icon
वायरल Elvish Yadav के सपोर्ट में उतरीं एक्स गर्लफ्रेंड कीर्ति, अभिषेक मल्हान को बताया इनसिक्योर, सुनाई खरी खोटी
icon
बिज़नेस Gold Price Today: सोना खरीदने से पहले चेक कर लें रेट, आज महंगा हुआ गोल्ड और सिल्वर
icon
राजनीति 'मानसिक दिवालियापन और हिंदूफोबिया को दर्शाती है ए राजा का बयान', धर्मेंद्र प्रधान बोले- सनातन शाश्वत और सत्य
icon
टेक्नोलॉजी 108MP कैमरा और 16GB रैम वाले realme 11 5G की पहली सेल आज, जानें ऑफर डिटेल्स
icon
वायरल Vijay Deverakonda ने किया 100 परिवारों को एक करोड़ देने का एलान, फ्लॉप फिल्म के निर्माता ने की ये मांग
icon
बिज़नेस मनी फाइनेंशियल इन्फ्लूएंसर पर लगाम लगाएगा SEBI, निवेशकों को मिलेगी मदद
icon
टेक्नोलॉजी Restore Recently Deleted Apps: गलती से कर बैठे Smartphone से काम का ऐप डिलीट, इस ट्रिक की मदद से करें रिस्टोर
icon
खेल IND vs NEP: Shreyas Iyer की जगह होगी SKY की वापसी? नेपाल के खिलाफ इस Playing 11 के साथ उतर सकती है Team India
icon
बिज़नेस मनी भारत में अमेरिका और चीन के बाद सबसे अधिक यूनिकॉर्न, देखें टॉप-5 देशों की लिस्ट
icon
बिज़नेस भारत को स्थानीय मुद्रा में लोन देने पर विचार कर रहा वर्ल्ड बैंक, कर्ज की लागत कम करने में मिलेगी मदद
icon
वायरल 'जवान' एक्ट्रेस Nayanthara ने पति विग्नेश को KISS करते हुए विश किया बर्थडे, लिखा दिल छू लेने वाला 'लव लेटर'
icon
बिज़नेस मनी टेक कंपनियां बनी नौकरियों की काल, ये आंकड़े देखकर कर लेंगे टेक जॉब से तौबा
icon
वायरल Jailer Box Office Day 6: नहीं कम हो रहा रजनीकांत की 'जेलर' का जलवा, 6 दिनों में धड़ाधड़ कमाए इतने करोड़
icon
वायरल Bigg Boss OTT 2: एल्विश यादव के दोस्तों ने अभिषेक के साथ खेली गंदी राजनीति? वायरल वीडियो में खुली पोलपट्टी
icon
वायरल Rocky Aur Rani Kii Prem Kahaani में अपनी लाइन भूल गई थीं Jaya Bachchan, फिर बना लिया था ऐसा मुंह, वीडियो वायरल
icon
वायरल Gadar 2 Box Office Collection: 'गदर 2' की बंपर शुरुआत, पहले ही दिन सनी देओल की फिल्म ने छापे इतने करोड़
icon
वायरल 'गदर 2' की धमाकेदार रफ़्तार है 'पठान' से भी तेज, सनी की फिल्म है ज्यादा बड़ी हिट?
icon
वायरल Jailer Box Office Collection Day 1: रजनीकांत की मूवी ने आते ही जमाई धाक, 'गदर 2' के लिए सेट किया बड़ा बेंचमार्क
icon
वायरल OMG 2 Box Office Collection: सनी देओल के आगे फीके पड़े अक्षय कुमार, पहले दिन की शुरुआत महज इतने करोड़ से
icon
वायरल Alia Bhat का लिपस्टिक लगाना पति को नहीं पसंद, तुरंत हटाने का देते हैं ऑर्डर, लोगों ने रणबीर को बताया टॉक्सिक